जानें, क्यों लोकलुभावन होगा मोदी सरकार का अंतरिम BUDGET 2019

जानें, क्यों लोकलुभावन होगा मोदी सरकार का अंतरिम BUDGET 2019

सीसीपीए की बैठक में एक फरवरी को अंतरिम बजट (interim budget 2019) पेश करने का फैसला लिया गया है। मोदी सरकार की तरफ से आखिरी बार पेश होनेवाले इस अंतरिम बजट की रुपरेखा लोकलुभावन हो सकती है।

क्यों लोकलुभावन होगा बजट (budget 2019) ?

दरअसल, मोदी सरकार के लिए ये आखिरी मौका है जब वो बजट के जरिए चुनावी घोषणाएं कर सकती है। पिछले एक-दो बजट में भी मोदी सरकार ने टैक्स पेयर्स को केंद्रित कर बजट बनाया था।

घोषणाओं का बजट

माना जा रहा है कि इस अंतरिम बजट (budget 2019) में भी सरकार कुछ एक मुद्दों पर जरूर फोकस करेगी। इनमें बचत सीमा बढ़ाना, पेंशनर्स के लिए टैक्स लाभ और होम लोन पर ब्याज में छूट अहम हो सकते हैं।

ये भी पढ़ें: 2019 starts with a slippery sales in housing sector, surge after Election!

ये भी पढ़ें: Govt aims to boost methanol economy to Rs 2 lakh crore’

31 जनवरी से 13 फरवरी तक चलनेवाले बजट सत्र में वित्त मंत्री अरूण जेटली उदारवादी रवैया अपना सकते हैं। इसकी एक बानगी बजट सत्र से पहले जीएसटी में कटौती और सवर्णों को आरक्षण के नाम पर दिया जा चुका है।

1 thought on “जानें, क्यों लोकलुभावन होगा मोदी सरकार का अंतरिम BUDGET 2019

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: